225 करोड़ के बजट से बनी “मणिकर्णिका”, जानें फिल्म से जुड़ी सभी खास और दिलचस्प बात

manikarnika

New Delhi: अगर बचपन में किताबों में पढ़कर आपने झांसी की रानी लक्ष्मीबाई की तस्वीर अपने जहन में बना रखी है, तो ट्रेलर में 161 साल बाद नजर आईं झांसी की रानी, उसी तस्वीर की हूबहू कॉपी है। 3 मिनट 19 सैकंड के ट्रेलर में कंगना का मासूम सी मनु और जांबाज लक्ष्मीबाई का लुक रोंगटे खड़े कर देता है।

225 करोड़ है फिल्म का बजट

फिल्म में विलेन डैनी डेन्जोंगपा गुलाम गौस खान की भूमिका में हैं। बता दें गुलाम गौस खान रानी लक्ष्मीबाई के मुख्य कमांडर थे और जब झांसी के किले पर अंग्रेज अधिकार करने पहुंचे तब उनके नेतृत्व में ही रानी के तोपचिओ ने ब्रिटिश खेमे में खलबली मचा दी थी। इसके अलावा फिल्म में जिशू सेनगुप्ता महाराजा गंगाधर राव बने हैं। फिल्म में 150 साल पुराने हथियारों का इस्तेमाल किया गया है। फिल्म का बजट 225 करोड़ जा रहा है।

kangana ranaut

कंगना ने किया है डायरेक्शन 

विवादों के चलते जहां सोनू सूद ने फिल्म बीच में छोड़ दी थी। वहीं डायरेक्टर कृष जगरलामुड़ी भी दूसरे कमिटमेंट्स के चलते फिल्म से अलग हो गए थे। फिल्म का डायरेक्शन कंगना ने किया है। वहीं प्रोडक्शन कमल जैन का रहा। फिल्म में कंगना के साथ अंकिता लोखंडे, डैनी डेंजोंग्पा, जिस्सू सेन गुप्ता, अतुल कुलकर्णी भी नजर आएंगे।

कंगना के दत्तक पुत्र दामोदर राव

रानी लक्ष्‍मीबाई का विवाह झांसी स्‍टेट के महाराजा गंगाधर राव निवालकर के साथ मई, 1842 में हुआ था. 1851 में उन्‍होंने पुत्र दामोदर राव को जन्‍म दिया लेकिन चार महीने बाद ही उसका निधन हो गया. उसके बाद राजा गंगाधर राव ने अपने कजिन वासुदेव राव निवालकर के बेटे आनंद राव को गोद ले लिया. 15 नवंबर, 1849 को जन्‍मे आनंद का नया नाम दामोदर राव रखा गया. नवंबर, 1853 में महाराजा गंगाधर के निधन से एक दिन पहले दामोदर को दत्‍तक पुत्र घोषित किया गया. ब्रिटिश राजनीतिक अधिकारी की उपस्थिति में यह प्रक्रिया हुई थी.

Related Posts