जेल के अंदर आर्यन की हुई काउंसलिंग! अधिकारी से बोले- मैं अब अच्छा इंसना बनकर गरीबों की मदद करूंगा

आर्यन ने समीर वानखेड़े से किया ड्रग्स छोड़ने का वादा

शाहरुख़ के शहजादे आर्यन खान जेल के अंदर ही अपने दिन गुजार रहे हैं. हर किसी की नजर अभी इसी बात पर है कि, 20 तारीख को क्या आर्यन को जमानत मिल पाएगी या नहीं। अगर उनको 20 को भी जमानत नहीं मिलती है तब तो करीब एक महीने उनको जेल के अंदर ही बिताना पड़ेगा. आर्यन की जमानत को लेकर उनके फैन लगातार दुआएं कर रहे हैं और शाहरुख़ के समर्थन में आवाज उठा रहे. फिल्म स्टार्स भी लगातार शाहरूख और आर्यन के बचाव में बोलते नजर आ रहे हैं. इस बीच जेल के अंदर से आर्यन की दिनचर्या और उनसे जुडी कई बातें सामने आ रही हैं.

अब खबर सामने आई है कि, आर्यन खान ने सिंघम समीर वानखेड़े से कई बड़े वादे किये हैं. ख़बरों की माने तो, आर्यन ने उनसे कहा कि, वह अपनी आगे की ज़िंदगी सभी तरह के व्य’सनों से दूर रह कर बिताएंगे. साथ ही देश के एक जिम्मेदार नागरिक की तरह बिताने की इच्छा जताई.

आर्यन ने समीर वानखेड़े से किया ड्रग्स छोड़ने का वादा

गौरतलब है कि, आर्यन के जेल जाने के बाद से शाहरुख़ और गौरी बेहद परेशान हैं. तो वहीं उनके चाहने वाले भी काफी चिंता में हैं और लगातार उनके लिए दुआएं कर रहे हैं. इस बीच अब एक दिलचस्प खबर सामने आई है. बताया जा रहा है कि, जेल में NCB के अधिकारियों और स्वयंसेवी संस्थाओं द्वारा आर्यन की काउंसिलिंग की जा रही है.

ऐसा कहा जा रहा है कि, काउंसिलिंग के दरम्यान आर्यन खान ने अधिकारियों से खुद को बदलने का वादा किया है. उन्होंने अधिकारी से कहा है कि, ‘मैं कसम खाता हूं कि जेल से बाहर आने के बाद ड्र’ग्स को हाथ भी नहीं लगाऊंगा.’ रिपोर्ट्स के मुताबिक, दो NGO के कर्मचारियों और अधिकारियों द्वारा एनसीबी के कार्यालय और आर्थर रोड जेल में जाकर आर्यन और क्रूज में अरे’स्ट किए गए अन्य सात लोगों की काउंसिलिंग की जा रही है.

जेल में आर्यन को नहीं आई नींद

इसी काउंसिलिंग के दरम्यान आर्यन खान ने देश के एक ज़िम्मेदार नागरिक की तरह अपनी आगे की ज़िंदगी बिताने की इच्छा जताई है.

बता दें कि, आर्यन और अन्य सातों लोग 30 साल से कम उम्र के हैं. उन्हें ड्र’ग्स की लत से छुटकारा दिलाने के लिए एनजीओ की ओर से मदद की जा रही है. इन युवाओं को समीर वानखेड़े सहित एनसीबी के अन्य अधिकारियों और स्वयंसेवी संस्थाओं के कार्यकर्ताओं की ओर से ड्र’ग्स के दु’ष्प’रिणाम बताए जा रहे हैं. इससे व्यक्ति, समाज और देश को होने वाले नुकसान को लेकर उन्हें जागरुक किया जा रहा है.

ऐसा कर के उन्हें ड्र’ग्स से दूर रहने की नसीहत दी जा रही है. यह एनसीबी की कार्य पद्धति का एक हिस्सा है. अधिकारियों के मुताबिक इस काउंसिलिंग में आर्यन खान बहुत अच्छा रेस्पॉन्स दे रहे हैं. वे हर बात बहुत गौर से सुनते हैं. उन बातों पर अपनी राय भी जाहिर करते हैं और सुधरने की इच्छा जताते हैं.

बताया जा रहा है कि, आर्यन खान ने इस काउंसिलिंग के दौरान अधिकारियों और एनजीओ कार्यकर्ताओं की बातों को बेहद ध्यान से सुनते हैं. उनके दिए गए निर्देशों का पालन करते हैं. बार-बार न’शे से दूर रहने की इच्छा जता रहे हैं. अधिकारियों के मुताबिक आर्यन खान काउंसिलिंग के दौरान आर्यन ने यह कहा कि, अब वह पूरी तरह से खुद को बदल लेंगे.

जेल में 4 दिन से आर्यन ने नहीं खाया खाना

साथ ही जेल से बाहर आने के बाद वह ऐसा काम करेंगे कि, देश के लोगों को उनपर गर्व होगा। वह कहते हैं कि, समाज के गरीब और वं’चित तबके के लोगों के लिए काम करने की इच्छा रखते हैं और वह पहले भी जरूरतमंदों की मदद करते आये हैं. आगे भी अब वह इस क्रिया को बड़े पैमाने पर करेंगे।