कंगना पर भड़’कीं जीतन मांझी की बहु, बताया दिया कल’मुही.. कहा- ई ससुरी गोबर पाथे के लायक भी..

कंगना पर भड़कीं जीतन मांझी की बहु

कंगना अपने बयान की वजह से देश भर में विरोध का सामना कर रही हैं. सोशल मीडिया से लेकर सड़क तक अब तो उनके विरोध में लोग आवाज उठाते नजर आ रहे हैं. कई शहरों में उनके खिलाफ नारेबाजी और विरोध प्रदर्शन देखने को मिल रहा है. कंगना के बयान को लेकर विपक्षी दल भाजपा पर भी हम’लावर नजर आ रहे हैं. इसी बीच बिहार के एक बड़े नेता की बहु ने कंगना की क्लास लगा दी है.

उन्होंने कंगना को देश द्रो’ही बता डाला और जमकर फटकार लगाई। अब उनका ट्वीट काफी चर्चा में बना हुआ है और लोग भी इसपर अपनी प्रतिक्रिया दे रहे.

कंगना के खिलाफ दर्ज हुए केस
IC: Google

गौरतलब है कि, आजादी पर दिए गए विवा’दित बयान की वजह से कंगना की मुश्किल भी काफी बढ़ गई है. कई शहरों में तो उनके खिलाफ केस भी दर्ज हो गया है. तो उधर आम जनता के साथ कई राजनीतिक पार्टियों के कार्यकर्त्ता सड़क पर प्रदर्शन करते भी नजर आ रहे.

मुंबई से लेकर बिहार और कानपुर से लेकर राजस्थान तक कई शहरों और राज्यों में कंगना के खिलाफ लोग सड़क पर उतर आये हैं. एक सुर में हर कोई उनके आजादी वाले बयान की निंदा कर रहे हैं.

कंगना के आजादी वाले बयान से आहत हुई जनता

लोग भाजपा पर भी निशाना साधते हुए कह रहे कि, अब तक किसी बड़े नेता ने कंगना के बयान पर नाराजगी क्यों नहीं जताया। साथ ही लोग अभिनेत्री का पद्म श्री वापस लेने की मांग कर रहे.

इसी बीच अब बिहार के बड़े नेता जीतन राम मांझी की बहु ने भी कंगना पर नाराजगी जताई है. दरअसल दीपा संतोष मांझी ने कंगना रनौत पर जमकर निशाना साधा है. या यूं कह लें कि अप शब्दों की झड़ी लगा दी है. उन्होंने ट्वीट कर कहा, ” ई कंगना रनौत के पता नहीं है कि एकरा जई’सन कल’मु’ही के हमनी बिहारी गोबर पाथे लायक नहीं बुझते हैं. पद्म सम्मान मिल गया तो शही’दों को ही अप’मानित करने लगी.”

यही नहीं उन्होंने कंगना को ‘देश द्रो’ही’ बताते हुए चुनौती देकर कहा, ” अरे ओ देश’द्रो’ही कंगना, औ’का’त है तो ई भाषा बिहार में बोलकर दिखाव, मुंह कीचड़ में ना डुबा दिया तो कहना. लत’खोर. “शुर्प’ण’खा की बहन कंगना” अब दीपा के यह ट्वीट काफी चर्चा में बने हुए हैं और लोग इस तरह की भाषा बोलने के लिए उनकी आलोचना भी करते नजर आ रहे.

बता दें कि, कि इससे पहले जीतन राम मांझी ने भी कंगना पर हम’ला बोला था. उन्होंने ट्वीट कर कहा था, ” महामहिम रामनाथ कोविंद अविलंब कंगना रनौत से पद्म श्री सम्मान वापिस लेना चाहिए. नहीं तो दुनिया ये समझेगी कि गांधी, नेहरू, भगत सिंह, पटेल, कलाम, मुखर्जी, सावरकर सब के सब ने भीख मांगी तो आजादी मिली. लानत है ऐसे कंगना पर. टाइम्स नाउ ऐसे टॉक के लिए माफी मांगे और सभी चैनल कंगना को बै’न करें.”

दीपा मांझी ने कंगना को बताया सूपनखा

तो उधर एनसीपी नेता नवाब मलिक ने भी कंगना को करारी फ’ट’कार लगाई थी और उन्हें गिरफ्तार करने की मांग तक कर डाली थी. मलिक ने यह कह दिया था कि, कंगना को न’शे का ओवर डो’ज हो गया है इसलिए वह इस तरह के गलत बयान दें रहीं.

कंगना के खिलाफ सड़कों पर उतरे लोग

यह बनात सिर्फ एनसीपी और बिहार के नेताओं की नहीं है, कंगना के खिलाफ चौतरफा विरोध देखने को मिल रहा है. महिला कांग्रेस ने राजस्थान के कुछ शहरों में तो केस भी दर्ज करा दिया है.