ओवैसी- अब UP में महिलायें कहती हैं सो जा बेटा कोई चिंता नहीं हमारी रक्षा के लिए ओवैसी जी आ गए हैं

ओवैसी बोले हमारे आने से अब महिलाएं सुरक्षित महसूस कर रहीं

उत्तर प्रदेश में होने वाले चुनाव को लेकर सियासी सरगर्मी काफी तेज है. नेताओं के प्रचार प्रसार का दौर जारी है. इस बार के चुनाव काफी दिलचस्प होने जा रहे हैं, क्योंकि इस बार कई छोटी पार्टियां भी खुलकर मैदान में हैं और वह एक साथ आकर खेला करने की तैयारी कर रही हैं. सपा, बसपा, भाजपा से लेकर कांग्रेस तक हर कोई ब्राह्मणों को रिझाने में लगा हुआ है. इसी बीच ओवैसी की एंट्री ने एक अलग ही हल’चल मचा दी है और वह लगातार मुसलमानों को साधने में लगे हुए हैं. इसी बीच अब उन्होंने एक ऐसा बयान दिया जिसको सुनकर लोग मजाक बना रहे हैं.

जाहिर है ओवैसी ने भी यूपी चुनाव में पूरी तरह से अपनी दावेदारी पेश कर दी है. वह बड़ी बड़ी बातें कर रहे हैं और 100 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारने की बात कह चुके हैं. तो अब उन्होंने प्रचार प्रसार का दौर भी शुरू कर दिया है और इसके साथ ही उनके विवा’दित बयानों के चलते केस भी दर्ज हो गया है.

मुझे भारतीय राजनीति की लैला बना दिया गया है

वहीं हाल ही में एक रैली के दौरान ओवैसी ने बहुत ही दिलचस्प बात कही जिसको सुनकर आप भी लोटपोट हो जायेंगे। दरअसल एक क्रायक्रम में लोगों को संबोधित करते हुए ओवैसी ने कहा- अब उत्तर प्रदेश में महिलाएं कह रही हैं, सो जा बेटा आराम से अब कोई चिंता की बात नहीं। हमारी हिफाजत के लिए AIMIM आ गई है. यानी ओवैसी यह कहना चाह रहे हैं कि, यूपी की जनता उनपर भरोसा जता रही है. तो वहीं अब यह वीडियो वायरल होने के बाद सोशल मीडिया पर लोग मजे ले रहे हैं और आलोचना कर रहे.

आपको बता दें कि, बीते दिन ओवैसी ने अयोध्या से अपनी चुनावी यात्रा शुरू की थी. वह सबसे पहले प्रभि श्री राम की नगरी पहुंचे थे और उन्होंने यहीं से अपना चुनाव प्रचार शुरू किया। हालांकि वह सिर्फ उन्ही इलाकों में जा रहे हैं जहां मुस्लिम आबादी ज्यादा है और खुद ओवैसी भी लगातार अपनी भाषण में मुसलमानों की बात करते नजर आ रहे हैं. जाहिर है वह इससे पहले बिहार और बंगाल में वह यही कर रहे थे जहां उन्हें मुंह की खानी पड़ी है.

ओवैसी का पूरा बयान सुनने के लिए लिंक पर क्लिक करें: https://twitter.com/news24tvchannel/status/1436197320329031687

तो दूसरी तरफ ओवैसी ने ओमप्रकाश राजभर, चन्द्रशेखर से भी मुलकात की थी. अब देखना होगा कि, इस बार के चुनाव किस ओर जाते हैं और जनता किसका साथ देती है. हालांकि यह छोटी पार्टियां तो खेल करेंगी बाकी बड़ी पार्टियों पर लोगों की नजर बनी हुई है. बसपा ब्राह्मण सम्मेलन कर एक बार फिर ब्राह्मणों को अपनी ओर लाना चाह रही हैं. तो उधर भाजपा ने भी प्रबुद्ध सम्मेलन शुरू कर दिया है.