इस शहर में लोगों ने फिर बनाया सोनू सूद का मंदिर, फूल माला और दूध चढ़ाकर की पूजा..

इस शहर में लोगों ने फिर बनाया सोनू सूद का मंदिर

गरीबों के मसीहा सोनू सूद को जनता बेशुमार प्यार करने लगी है. उन्होंने जिस तरह से जनता के लिए सेवा भाव का कार्य शुरू किया वो आज भी जारी है. जरूरतमंद की परेशानी को अपनी परेशानी समझकर दिन रात कार्य करने वाले सोनू को लोग भगवान का दर्जा भी देते नजर आते हैं. ऐसा ही कुछ एक बार फिर देखने को मिला है.

जी हां एक बार फिर लोगों ने अपने मसीहा और सुपरहीरो को नमन करते हुए उनके नाम का मंदिर बना दिया है. बकायदा सोनू की मूर्ति स्थापित की गई है और लोग उनकी पूजा करते नजर आ रहे.

सोनू सूद ने बताया क्यों पड़ी थी IT रेड

जाहिर है सोनू सूद आज देश की जनता के दिलों में घर कर गए हैं. लोग उनकी सेवा भाव के मुरीद हो चुके हैं और उनकी प्रशंसा करते नहीं थकते हैं. क्या आम क्या खास हर कोई सोनू के मदद वाले भाव का प्रशंसक है और उनको सलाम करता नजर आता है.

जनता के लिए कोरोना के समय से मदद का जिम्मा उठाने वाले सोनू आज बच्चों को पढ़ाई कराने से लेकर लोगों का इ’ला’ज तक करा रहे हैं. जरूरतमंद लोग भी सिर्फ उन्ही पर भरोसा करते हुए उनके मुंबई स्थिति घर के बाहर जाकर गुहार लगाते दिखाई देते हैं.

फरिश्ता बनकर लोगों की मदद कर रहे हैं सोनू सूद
Image Credit: Google

सोनू भी बिना किसी को निराश किये हर संभव मदद करने का प्रयास करते हैं. सोनू आज भरोसे का बड़ा नाम बन चुके हैं जिनके पास एक शहर नहीं बल्कि पूरे देश के कोने कोने से लोग आते हैं. अब इसी बीच एक बार फिर लोगों ने सोनू सूद को भगवान का दर्जा देते हुए उनका मंदिर स्थापित कर दिया है.

जाहिर है सोनू की अ’थ’क मेहनत को देखते हुए, देश भर के प्रशंसक अभिनेता को बहुत प्यार दे रहे हैं. इसी बीच सोशल मीडिया पर कुछ तस्वीरें सामने आई हैं, इसमें सोनू के नाम का मंदिर नजर आ रहा है. यह किसी और नहीं बल्कि तेलंगाना शहर के गरलापाड़ा गांव के निवासी गुरराम वेंकटेश द्वारा बनाया गया है जो उन नामों की सूची में शामिल हुए हैं, जिन्होंने सोनू सूद को पूजा स्थल समर्पित किया है.

गरीबों के मसीहा सोनू सूद को भगवान का दर्जा

रिपोर्ट्स के मुताबिक, वेंकटेश ने कहा, सोनू सूद ने हमारे गांव की कई तरह से मदद की है. मेरे बच्चे स्कूल जाने से पहले उनसे प्रार्थना करते हैं और उनसे प्रेरणा लेते हैं.

उन्हें राष्ट्र के लिए निस्वार्थ भाव से काम करते हुए देखने के बाद, हमने मदद करना शुरू कर दिया है. एक दूसरे को हमारे गांव में भी. यह मंदिर उनके प्रति आस्था दिखाने का हमारा तरीका है. दरअसल, वेंकटेश ने खम्मम जिले में एक मंदिर का निर्माण कराया है.

सोनू ने भी इस ट्वीट को रीट्वीट करते हुए लिखा है- अभिभूत। जाहिर है आज सोनू को देश भर से जनता बेशुमार प्यार दे रही है. उन्होंने जिस तरह से जनता और जरूरतमंद की मदद करने का फैसला लिया है और लगातार कार्य जारी है. वह वाकई बहुत बड़ा और नेक काम है.

जानकारी के लिए बता दें कि, पिछले साल भी, तेलंगाना के एक गांव में अभिनेता के नाम पर एक मंदिर बनाया गया था. ग्रामीणों ने सोनू सूद की मूर्ति पर तिलक लगाया था. साथ ही सोनू सूद की आरती भी की थी. इस मंदिर का नाम रखा गया है. रियल हीरो ऑफ इंडिया सोनू सूद टेम्पल.

गरीबों के मसीहा सोनू सूद को भगवान का दर्जा

इस दौरान कई महिलायें पूजा करती भी नजर आई थीं. यही नहीं इससे पहले भी ऐसी खबरें सामने आ चुकी हैं जहां लोगों ने सोनू के नाम पर मंदिर बनवाया था. हालांकि सोनू इन सब चीजों को देखकर काफी हैरानी जता चुके हैं. उन्होंने कई बार कहा है कि, जनता इतना प्यार दे रही है इससे मुझे काम करने की और अधिक प्रेरणा मिलती है.