सलमान, आमिर और शाहरुख़ पर नसीरुद्दीन ने कही बड़ी बात, बोले- वह हर मुद्दे पर नहीं बोल सकते क्योंकि..

नसीररूद्दीन शाह ने खांस पर कही बड़ी बात

फिल्म इंडस्ट्री के दिग्गज अभिनेता नसीरुद्दीन शाह अपने बेबाक बयानों के लिए भी जाने जाते हैं. जितना संजीदा उनकी फ़िल्में के किरदार होते हैं. उतना ही उनके बयान भी और वह देश के बड़े मुद्दों पर कई बार खुलकर अपनी राय रखते हैं. बीते तालिबान को लेकर दिए गए बयान के बाद काफी आलोचना का सामना किया था. तो वहीं अब उन्होंने बॉलीवुड के तीनों खांस को लेकर बड़ी बात कह दी है. नसीर साहब द्वारा दिए गए इस बयान की अब हर तरफ चर्चा हो रही है और लोग सोशल मीडिया पर भी इसकी चर्चा कर रहे हैं. नसीरुद्दीन शाह भले ही ट्विटर पर नहीं हैं, लेकिन फेसबुक पर वह अपनी प्रतिक्रिया देते रहते हैं.

इस बीच उन्होंने बॉलीवुड के तीनों खान सलमान खान, शाहरुख खान और आमिर खान को लेकर बड़ी बात कही है। उन्होंने बताया कि आखिर क्यों किसी मुद्दे पर ये तीनों खान चुप रहते हैं। तो अब नसीर के इस बयान को लेकर भी लोग सोशल मीडिया पर काफी चर्चा कर रहे हैं. तो आइये आपको बताते हैं कि, आखिर उन्होंने क्या कहा है.

नसीर साहब बोले- खांस डरते हैं
IC: Google

हाल में एक इंटरव्यू के दौरान नसीरुद्दीन शाह बॉलीवुड के खान पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि दरअसल, ये लोग इतने बड़े कलाकार हैं कि देश के जरूरी मुद्दे पर नहीं बोलते। ऐसा इसलिए क्योंकि उन लोगों के पास खोने के लिए काफी कुछ है.

हाल ही में अभिनेता ने न्यूज चैनल इंडिया टुडे को दिए अपने इंटरव्यू में कहा कि मैं कुछ भी कहने वाला कौन होता हूं लेकिन अपनी उपलब्धियों और प्रयासों पर अधिक विश्वास होना चाहिए, जो उनके पास नहीं है। ज्यादा से ज्यादा क्या होगा एक या दो इंडोर्समेंट का नुकसान होगा। ऐसा नहीं है. नसीरुद्दीन ने कहा कि वह उनके लिए बोल नहीं सकते लेकिन कल्पना कर सकते हैं कि उनका कितना उत्पी’ड़न किया जाएगा।

नसीररूद्दीन शाह बोले- तीनों खान बहुत बड़े इंसान हैं

बातचीत के दौरान नसीरुद्दीन ने आगे कहा कि वे (खान) इस बात से चिंतित रहते हैं कि उनके साथ किस तरह का अत्या’चार होगा। उनके पास खोने के लिए बहुत कुछ हैं। शाह ने कहा कि इसलिए मुझे लगता है कि मैं बोल सकता हूं मेरे पास खोने के लिए बहुत कुछ नहीं है।

अभिनेता ने कहा कि फिल्म उद्योग में स्वतंत्र रहने की शक्ति है और काश उनके पास ऐसा करने के लिए पर्याप्त साहस होता। लेकिन वे (खान) हार मान रहे हैं क्योंकि उनके हित बहुत बड़े और बहुत विविध हैं और उनके पास खोने के लिए बहुत कुछ है और वे आसान लक्ष्य हैं।

तो वहीं इस इंटरव्यू के दौरान उन्होंने तालिबान पर नाराजगी जताते हुए भारतीय मुसलमानों के एक वर्ग पर जो बात कही थी उसपर सफाई दी. अभिनेता ने स्पष्ट किया कि तालिबान के उदय का जश्न मनाने वाले भारतीय मुसलमानों के एक वर्ग के बारे में उनकी टिप्पणियों को समुदाय द्वारा गलत समझा गया।

नसीरुद्दीन शाह ने तालिबानी समर्थकों को लगाई फटकार

उन्होंने कहा कि मेरा बोलने का मतलब पूरे मुस्लिम समुदाय से नहीं था, जो कि इच्छुक पार्टियों द्वारा इसकी व्याख्या की जा रही है। उन्होंने सिर्फ कुछ लोगों को लेकर कहा था. बता दें कि, नसीर साहब के इस बयान को लेकर राजनीतिक दलों के लोगों ने भी काफी बयानबाजी की थी.